गुलकंद- स्वादिष्ट और सेहतमंद

😋गुलकंद या गुलाब की पंखुड़ियों🌹का जैम एक स्वादिष्ट आयुर्वेदिक तरीका है जिसका उपयोग कई स्वास्थ्य समस्यायों में किया जाता है।

🌹इसे आसानी से घर पर भी बनाया जा सकता है। एक कांच के बर्तन में गुलाब की पंखुड़ियों के साथ मिश्री या चीनी को मिलाकर (परत बनाए) इस जार को 3-4 दिनों के लिए धूप में रख दें। फिर इसमें इलायची डालकर इसे ठीक से मिलाएं।👌

🌹यह अकेले या अन्य आयुर्वेदिक दवा के साथ प्रयोग किया जाता है, यह अपनी ठंडी प्रकृति के कारण शरीर में पित्त दोष को संतुलित करता है।

गुलकंद के स्वास्थ्य लाभ

👉गुलकंद अच्छाइयों से भरपूर है। इसका नियमित सेवन स्वास्थ्य को बनाए रखने और कई विकारों के उपचार में फायदेमंद है। 🌿

👉यह शरीर और मस्तिष्क को युवा बनाए रखता है। इसका उपयोग स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए स्वास्थ्य टॉनिक के रूप में किया जाता है। इसका रोजाना सेवन किया जा सकता है।🌞

👉यह पेट की गैस से राहत दिलाता है।🔥

👉मुंह में छालों के उपचार में उपयोगी होता है।👍

👉कब्ज में उपयोगी होता है। यह गर्भावस्था के समय और बच्चों में उपयोग करने के लिए भी सुरक्षित होता है।🧒

👉यह पाचन तंत्र में सुधार करता है। आंतों के लिए अच्छा है। पेट के अल्सर, GERD और अम्ल प्रतिवाह (Acid Reflux) जैसी समस्यायों में उपयोग किया जाता है।☃️

👉दिल के लिए अच्छा होता है और घबराहट में उपयोगी होता है।💓

👉 शरीर में अधिक गर्मी के कारण हुए पिंपल्स, त्वचा पर चकत्ते (Rashes), खुजली, फोड़े और अन्य त्वचा संबंधित समस्याओं में इसका उपयोग किया जाता है। यह त्वचा को सूरज की गर्मी से भी बचाता है।😎

👉अधिक मासिक स्राव, श्वेत प्रदर और दर्दनाक माहवारी में उपयोगी होता है।🌸

👉गर्भाशय को मजबूत करके गर्भधारण करने में मदद करता है साथ ही गर्भपात को रोकता है।🌻

👉रजोनिवृत्ति के दौरान गर्मी (Hot Flashes) को कम करता है।🌿

👉वीर्य (शुक्राणुओं) की संख्या और गुणवत्ता को बढ़ाता है।

👉मूत्र विसर्जन (पेशाब) के दौरान होने वाली जलन को कम करता है। मूत्र संक्रमण के उपचार के लिए इसका उपयोग अन्य आयुर्वेदिक दवाओं के साथ किया जाता है।🌼

👉 शरीर में यूरिक एसिड का स्तर कम करता है।👌

👉यह आंखो के लिए भी अच्छा होता है। यह आंखो में जलन से छुटकारा दिलाता है। 👀

👉गर्मी से संबंधित थकान, मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द, नाक से खून बहना और अत्यधिक पसीना आना जैसी समस्यायों से राहत प्रदान करता है। 🥵

👉यह हथेली और पैरों के तलवों में होने वाली जलन से राहत दिलाता है।🔥

👉यह एक अवसादरोधी (Anti Depression) है और मन को शांत करता है। 😇

Published by Dr. Amrita Sharma

I am an ayurvedic practitioner with experience of more than a decade, I have worked with best ayurvedic companies and now with the purpose of reaching out people to make them aware about ayurveda which is not just a system of treatment but a way of living to remain healthy

Leave a Reply

%d bloggers like this: